NGO Full Form जानिए NGO (Non-Governmental Organization) Kya Hai?

आज के इस लेख में हम NGO Full Form और NGO क्या है इसके बारे में विस्तार से पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे। दोस्तों अपने बहुत बारे NGO और चरिटी जैसे नामों के बारे में तो सुना ही होगा। अगर आप भी किसी NGO के साथ मिलकर अपने समाज, पर्यावरण और अपने देश की सेवा करना चाहते हो तो कैसे कर सकते हो। आज हम इसके वारे में सभी तरह की जानकारी प्राप्त करेंगे तो आइये बिना किसी देरी के इस लेख को शुरू करते है।

NGO क्या है? What is an NGO?

NGO Full Form – Non Governmental Organization है।

दोस्तों आसान भाषा में कहें तो NGO लोगो का एक संगठन होता है। इसकी मदद से वह लोगो की मदद करते है तथा सामाजिक हितों और पर्यावरण सुरक्षा के लिए बहुत से कार्य करते है।

यह एक गैर-सरकारी संगठन है, जो किसी भी सरकार से स्वतंत्र रूप से काम करता है। NGO के द्वारा सामाजिक और पर्यावण के हितों के लिए कार्य किये जाते है। NGO एक गैर लाभकारी समूह होता है। इसकी  मदद से आपातकालीन स्थिति, अनाथ बच्चों, गरीबों, आदि की सहायता की जाती है। इसके अलावा भी सामाजिक हितों के लिए और भी बहुत से कार्य किये जाते है।

NGO kya Hai?
NGO Full Form,

NGO के बारे में About NGOs

NGO

NGO बहुत से प्रकार के होते है। यह गैर-लाभकारी, निजी संगठन होते है। इनमें सरकार का किसी प्रकार का कोई नियंत्रण के बहार काम करते है।

यह तो मुख्यतः स्वयं सेवको के द्वारा ही चलाये जाते है। जबकि अगर कुछ बड़े NGO होते है तो उनमे स्वयं सेवको के साथ साथ अन्य वेतनभोगी कर्मचारी भी रहते है।

NGO को नाम charity के नाम से भी जाना है।

विश्व बैंक के अनुसार दो प्रकार के गैर सरकारी संगठन होते है।

परिचालन गैर सरकारी संगठन Operational NGOs

ऐसे NGO जो विकास की परियोजनाओं को बनाना, आपातकाल स्थिति में सहायता, और उन पर कार्यान्वयन करता है आदि विषयों पर कार्य करते है।

एडवोकेसी  गैर सरकारी संगठन Advocacy NGOs

इस तरह के NGO किसी विशिष्ट कारण का बचाव या प्रचार करते है। और सार्वजानिक निति को प्रभावित करना चाहते है।

बहुत से ऐसे भी गैर सरकारी संगठन होते है जो की इन दोनों प्रकार की श्रेणी के अंतर्गत आते है। जो गैर-सरकारी संगठनो में आते है। जो की मानवाधिकारों तथा सामाजिक हितों, बेहतर स्वास्थ्य आदि के लिए कार्य करते है।

NGO Full Form क्या है?

NGO = Non Governmental Organization होता है इसे हम हिंदी में गैर-सरकारी संगठन के नाम से भी जानते है।

NGO के कार्य (what is ngo work)

NGO के द्वारा बहुत से कार्य किये जाते है। जिनमे से इसके मुख्य कार्यों की सूची निचे दी गई है-

  • गरीब, जरूरत मंदों और बेसहारा लोगो की मदद करना।
  • पर्यावरण सुधार के लिए विभिन्न प्रकार के कार्य करना।
  • सामाजिक विकास और समुदायों को बेहतर बनाने के लिए कार्य करना।
  • आपातकालीन स्थिति में समाज की मदद करना।

NGO के प्रकार (Type Of NGOs)

अगर आप भी समाज की सेवा करने के लिए NGO बनाना चाहते हो तो आपके पास इसके बारे में पूरी जानकारी होना अति आवश्यक है। आइये हम यह जान लेते है की यह कितने प्रकार के होते है

GONGO – Government Organized Non-Governmental Organization

यह NGO सरकार के द्वारा चलाये जाते है। ngo चलने के लिए fund सरकार की तरफ से मिलता है। यह भी सामाजिक हितों और पर्यावरणीय होटों के लिए बहुत से कार्य करते है।

INGO – International Non-Government Organization

इस प्रकार के NGO विश्व स्टार पर कार्य करते है। यह समाज के लिए, पर्यावरण के लिए, आदि विषयों पर कार्य करते है।

BINGO – Business Friendly International Non-Governmental Organization

यह Business Friendly International यह व्यवसायिक NGO होते है जो की व्यवसाय के साथ साथ अपना NGO भी चलते है और और समाज की सेवा करते है।

ENGO – Environmental Non-Governmental Organization

इसे हम हिंदी में पर्यावरणीय गैर-सरकारी संगठन (NGO) के नाम से भी जानते है। यह मुख्यतः पर्यावरणीय मुद्दों पर जागरूकता बढ़ाने और पर्यावण सुरक्षा के लिए कम करते है।

QUANGO – Quasi Autonomous Non-Governmental Organization

संगठन के एक रूप का उपयोग तब किया जाता है जब किसी गतिविधि के लिए सरकारी वित्त प्रदान करना वांछित होता है

NGO रजिस्ट्रेशन कैसे करें (NGO संस्था का रजिस्ट्रेशन कैसे करें)

अगर भी अपने NGO संस्था का रजिस्ट्रेशन करवाना चाहते हो तो उसके लिए जो जरुरी डाक्यूमेंट्स चाहिए होते है उनकी सूची निचे दी गई है। आइये जान लेते है आपको इसके लिए रजिस्टर कैसे करना है।

अगर आप अपना NGO रजिस्टर करना चाहते हो तो इसे भारत में आप 3 तरह से बना सकते हो इसके बारे में जानकारी निचे दी गई है।

Society Act

इस एक्ट से NGO को रजिस्टर करने के लिए कम से कम सात सदस्यों की आवश्यकता होती है। फिर आप जरुरी डाक्यूमेंट्स और अपने सदस्यों के साथ मिलकर अपने ngo का रजिस्ट्रेशन करवा सकते हो।

Trust Act

भारत में आप इस एक्ट के अंतर्गत NGO को रजिस्टर कर सकते हो। इस एक्ट में कम से कम दो ट्रस्टी का होना अनिवार्य है। इसके लिए आपको जो भी संबंधित डाक्यूमेंट्स चाहिए उसकी सूची निचे दी गई है। आप ngo का रजिस्ट्रेशन आपके शहर के रजिस्ट्रार ऑफिस जा कर करवा सकते है

Companies Act

इस एक्ट के द्वारा रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए आपको कम से कम तीन सदस्यों की आवश्यकता होती है इसको भी आप रजिस्ट्रार ऑफिस जा कर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हो तो दोस्तों ऊपर बताये गये तीनो एक्ट मेसे किसी की भी मदद से आप अपने NGO का रजिस्ट्रेशन करवा सकते हो। आप जब भी रजिस्ट्रेशन करवाओ आपको अपने शहर के रजिस्ट्रार ऑफिस में जाना होगा वहां से आप इसे करवा सकते हो। इसके लिए जो भी जरुरी डाक्यूमेंट्स चाहिए उसकी सूची निचे दी गई है।

NGO के लिए जरुरी Documents

गैर-सरकारी संगठन को रजिस्टर करने के लिए जो डाक्यूमेंट्स जरुरी होते है उनकी सूची निचे दी गई है।

  • ट्रस्ट डीड / मेमोरेंडम ऑफ एसोसिएशन
  • राष्ट्रपति से शपथ पत्र
  • पंजीकृत कार्यालय का पता प्रमाण
  • पासपोर्ट (अनिवार्य)
  • आईडी प्रूफ (वोटर आईडी / आधार कार्ड)
  • निवास प्रमाण
  • नियम और विनियम / ज्ञापन
  • एसोसिएशन विनियमन के लेख

भारत के प्रमुख NGO  (Top 10 NGO in India)

वैसे देखा जाये तो दोस्तों भारत देश में स्वंम सेवी संस्थनो की कमी नहीं है। भारत के जो टॉप के प्रमुख NGO की सूची है वह निचे दी गई है।

  1. Aradhya Foundation
  2. Seva Mandir
  3. Dev Bhoomi samiti
  4. Project Nanhi Kali
  5. Give India Foundation
  6. Helpage India
  7. Pathway India
  8. Shoshit Seva Sangh
  9. MITRA
  10. Evangelistic Association of the East

अगर आप इनके बारे में और भी अधिक जानकारी जानना चाहते हो तो यहाँ क्लीक करें

NGO में काम कैसे करें

अगर आप भी सेवा करना चाहते हो या अपने आस पास के लोगो की, अपने समाज की, पर्यावण की सेवा करना चाहते हो तो उसके लिए आपको अपने आस पास के किसी भी ngo में शामिल होना होगा और फिर आप सबके साथ मिलाकर ngo में काम कर सकते हो।

NGOs को fund कैसे मिलता है? How NGOs are Funded

दोस्तों यह तो हम सभी जानते है की NGO लाभ कमाने के लिए नहीं होते है। यह सभी ngo के लिए बहुत ही महत्त्व पूर्ण सवाल है। सभी ngo को चलने के लिए किसी न किसी रूप में पैसों की आवश्यकता तो होती ही है।

आइये जानते है ngo को fund कैसे मिलता है। निचे कुछ सूची दी गई जिनकी मदद से सभी ngo को कहीं न कहीं से fund मिलता है।

  • NGO की वेबसाइट के माध्यम से fund मिलना।
  • NGO के लिए सोशल नेटवर्क के माध्यम से fund जमा करना।
  • सदस्यता देय राशि
  • NGO के विभिन्न प्रकार के प्रोग्राम्स करना
  • गवर्मेंट फंड्स
  • प्राइवेट फंड्स
  • माल और सेवाओं की बिक्री
  • अनुदान

इन सभी की मदद से ngo में fund मिलता है, जिससे NGO चलता है।

Conclusion

तो दोस्तों आशा करते है आप ngo के बारे में सभी प्रकार की जानकारी जान ही गये होंगे। NGO के माध्यम से समाज की सेवा करने का बहुत ही अच्छा अवसर मिलता है। और समाज में भी अच्छा नाम होता है तथा समाज की और अपने आस पास के पर्यावण की सेवा भी हो जाती है।

इस लेख में हमने जाना ngo क्या है यह कैसे काम करता है NGO Full Form In Hindi तथा NGO (Non-Governmental Organization) के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त किये है।

अगर आपको इससे संबंधित और भी जानकारी प्राप्त करना हो तो आप निचे कमेंट कर सकते हो हमारे द्वारा आपकी इस सम्बन्ध में पूरी सहायता की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *